जिनका समय खराब है उनका साथ दो

" जिनका समय खराब है उनका साथ दो पर जिनकी नीयत खराब है उनका साथ छोड़ देना चाहिए ।"


"Do live with people who are going through bad times, but leave those who have bad intention."


हम सभी को अनेक लोग ऐसे मिलते हैं जो परेशानी में फंसे होने से हमारी सहायता के योग्य होते हैं । धर्मशास्त्र कहते हैं ऐसे लोगों की मदद करना ईश्वर का प्रिय कार्य हैं। वहीं दूसरी ओर नीतिशास्त्र कहते हैं उन व्यक्तियों से अविलंब दूर हो जाना चाहिए जिनकी नीयत खराब हो ।


सच्चाई ये है कि मुसीबत में फंसा व्यक्ति आपके सहयोग के प्रति कृतज्ञता का भाव रखता है वहीं दूषित मानसिकता से पीड़ित व्यक्ति कुंठाग्रस्त होकर सदैव आपको प्रताड़ित करता रहेगा ।


मप्र के जबलपुर नगर में छह वर्ष पूर्व प्रारम्भ विराट हॉस्पिस ने उक्त उन लोगों की मदद का जिम्मा लिया जो वाकई अकल्पनीय मुसीबत में फंसकर जीवन की आस छोड़ देते हैं ।


ब्रह्मलीन ब्रह्मर्षि विश्वात्मा बावरा जी महाराज की शिष्या साध्वी ज्ञानेश्वरी दीदी ने वर्ष 2013 में कैंसर की अंतिम अवस्था के मरीजो